javascript required
बिहार राज्य खादी ग्रामोद्योग बोर्ड

बिहार सरकार

Proceeding

S.No.DateDescriptionFile
105/12/2018390TH BOARD PROCEEDING HELD ON 01/12/2018 12:30 PM
214/11/2018389TH BOARD PROCEEDING HELD ON 14/09/2018 12:00 PM
320/10/2017ज्ञापांक- खा० /१४२ दिनांक १३.१०.२०१७ को प्रधान सचिव, उद्योग विभाग की अध्यक्षता में खादी संस्थाओ/समितियों के साथ हुई बैठक की कार्यवाही I बैठक में निम्न बिन्दुओ पर विचार विमर्श किया गया १. रिबेट २. कार्यशील पूंजी ३. कटिया चरखा को कार्यशील पूंजी ४. खादी निति,२०१४ ५. करघा
417/10/2017ज्ञापांक -खा०/139,दिनांक 06.10.2017 को मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी, बिहार राज्य खादी ग्रामोधोग बोर्ड ,पटना के अध्यछ्ता में खादी पुर्नरुद्वार योजना अंतर्गत करघा आपूर्ति किये गए संस्थाओ के साथ हुई बैठक की कार्यवाही :-उपस्थिति पंजी के अनुसार :-बिहार अवस्थित कुल 26 संस्था /समितियों को खादी पुर्नरुद्वार योजनाअंतर्गत उपलब्ध कराये गए त्रिपुरारी मॉडल पांच चरखा पर एक करघा क्रय किये जाने हेतु करघा की कुल कीमत का ५०% राशि उपलब्ध कराये गयी है |
506/10/2017ज्ञापांक -खा०/138 ,दिनांक -06.10.2017 को मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी ,बिहार राज्य खादी ग्रामोधोग बोर्ड, पटना के अध्यछ्ता में हुई बैठक की कार्यवाही :-खादी पुर्नरुद्वार योजना अंतर्गत संस्थाओ को कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में दिनांक -12.07.2017 को हुई गत बैठक में 50 नग अधिकतम सीमा पर कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराने पर विचार किया गया था , जिस पर पुर्नविचार करते हुए बिहार अवस्थित संस्था /समिति को उपलब्ध कराये गए त्रिपुरारी मॉडल चरखा के आधार पर कार्यशील पूंजी भुगतान करने का निर्णय लिया गया |कार्यशील पूंजी के लिए खादी संस्था /समिति आवेदन करेगी |खादी योजना अंतर्गत 17 संस्था /समितियों को 600 नग कटिया चरखा क्रय करने हेतु 50% राशि भुगतान की गयी है ,जिन्हें भी कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराया जाना है |श्री अलीम अंसारी ,रेसम बुनकर खादी ग्रामोधोग संघ ,नाथनगर ,भागलपुर ने कमिटी को बताया की कटिया चरखा पर कार्यशील पूंजी की गणना कर कार्यालय को अवगत कराया गया है |प्रति चरखा कितनी कार्यशील पूंजी की आवस्यकता होगी ,इस पर खादी बोर्ड द्वारा विमर्श किया जायेगा |
613/07/2017ज्ञापांक -खा०/60 ,दिनांक -12.07.2017 को मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी के अध्यक्षता में खादी पुर्नरुद्वार योजना के अंतर्गत संस्थाओ को कार्यशील पूंजी उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में योजनान्तर्गत गठित कमिटी के सदस्यों के साथ हुई बैठक की कार्यवाही :-उपस्थिति पंजी के अनुसार:- बैठक में खादी पुर्नरुद्वार योजना अंतर्गत 35 खादी संस्था /समितियों को 1000 नग त्रिपुरारी मॉडल चरखा उपलब्ध कराया गया है, जिन्हें कार्यशील पूंजी उपलब्ध करने के सम्बन्ध में बिहार सरकार उधोग विभाग के संकल्प संख्या - 4671 पटना, दिनांक -19.12.2014 के कंडिका-३ में उलेखित शर्त पर की खादी बोर्ड के स्तर पर गठित समिति द्वारा संस्था /समितियों को ग्र्डिंग क्रिया-कलापो के आधार पर अनुदान /ऋण का अधिकतम सीमा तय किया जायेगा पर उपस्थित कमिटी के सदस्यों से वार्ता हुई एवं विमर्श के बाद निर्णय लिया गया की तत्काल 50 नग चरखा को ही अधिकतम सीमा मानकर ही कार्यशील पूंजी रु० 23,73,100/-मात्र का वितरण किया जाये| जिन संस्थाओ को 50 नग चरखा से अधिक चरखा उपलब्ध कराया गया है उनके कार्य-कलापो के समिक्षोप्रांत अतरिक्त कार्यसील पूंजी विस्तार करने पर अलग से पुनः विचार किया जायेगा |
728/02/2017खादी पुर्नरुद्वार योजनान्तर्गत बिहार अवस्थित खादी के संस्था /समिति को उपलब्ध कराये गए त्रिपुरारी मॉडल चरखा पर कार्यशील पूंजी उपलब्ध करने हेतु निदेशक,रस्त्रिये फैशन टेक्नोलोजी संसथान,मीठापुर ,पटना एवं निदेशक खादी और ग्रामोद्योग आयोग ,शेखपुरा,पटना के प्रतिनिधि के साथ बैठक की कारवाही - बैठक में निर्णय लिया गया की एक ०८ तकुआ के चरखा पर कार्यशील पूंजी की गणना का आधार निम्न रूपेण मानकर किया जा सकता है
Photo Gallery